53 visitors think this article is helpful. 53 votes in total.

Essay on advantage of river in hindi

Here is your Short Paragraph on the River specially written for School and College Students in Hindi Language Home ›› Hindi Paragraphs for Kids Related Essays. भारत की नदियों को चार समूहों में वर्गीकृत किया जा सकता है जैसे:- 1.

Next

Men Explain Things to Me - Guernica

Essay on advantage of river in hindi

CBSE Assessment of Speaking and Listening ASL Class IX Speaking Code IX-S, Examiner Copy for ASL Class 9. CBSE Assessment of Speaking and Listening ASL Class Benefits of Rivers Rivers are expedient in numerous ways, they are often used to generate electricity , providing food, and for domestic purposes among others. Not to mention that they act as source of tourist attraction. Domestic practices Water from the river is mainly used for washing, bathing and cooking and provides a steady supply of food to people since people consume fish, which is though to have many healing properties. It has been proven help to improve heart health and immune system just to mention but a few. Provides fertile soil The delta and flood plain that are formed by rivers provide fertile soil, thus make the land suitable for irrigation. Moreover, this encourages settlement when the deltas and flood plains are flat. Transport Rivers are considered as an economic means of transporting goods as well as travel, and are beneficial when transporting bulky and heavy stuff. The best thing about river transport is that you never have to worry about traffic snarl ups whatsoever. Irrigation purposes This is the act of transporting water into large tracts of land for agricultural purposes, particularly in areas that face severe drought.

Next

Essay Writing Service -

Essay on advantage of river in hindi

We provide excellent essay writing service 24/7. Enjoy proficient essay writing and custom writing services provided by professional academic writers. देवनदी, मंदाकिनी, भगीरथी, विश्नुपगा, देवपगा, ध्रुवनंदा, सुरसरिता, देवनदी, जाह्नवी, त्रिपथगा, देवनदी, मंदाकिनी, भगीरथी, विष्णुपदी, ध्रुवनंदा, सुरसरिता, त्रिपथगा, देवगंगा, सुरापगा, विपथगा, स्वर्गापगा, आपगा, सुरधनी, विवुधनदी, विवुधा, पुण्यतीया, नदीश्वरी, भीष्मसू भारत की सर्वाधिक महिमामयी नदी ‘गंगा’ आकाश, धरती, पाताल तीनों लोकों में प्रवाहित होती है। आकाश गंगा या स्वर्ग गंगा, त्रिपथगा, पाताल गंगा, हेमवती, भागीरथी, जाहन्वी, मंदाकिनी, अलकनंदा आदि अनेकानेक नामों से पुकारी जाने वाली गंगा हिमालय के उत्तरी भाग गंगोत्री से निकलकर नारायण पर्वत के पार्श्व से ऋषिकेश, हरिद्वार, कानपुर, प्रयाग, विंध्याचल, वाराणसी, पाटिलीपुत्र, मंदरगिरी, भागलपुर, अंगदेश व बंगदेश को सिंचित करती हुई गंगासागर में समाहित हो जाती हैं। वेद-पुराणों में कई नामों से गंगा का विशद् वर्णन उपलब्ध है। सागर के साठ हजार पुत्रों को तारने वाले इस गंगा जल में कभी कीड़े नहीं पड़ते और यह कभी बासी या दूषित नहीं होती। रूपकुंड के समीप मंदाकिनी नाम से इसका उद्गम एक बर्फीले झरने से हुआ है जो शनैःशनैः गर्जन-तर्जन करती हुई अलकनंदा और नंद प्रयाग में समा गई है। केल गंगा, विनायक के समीप से निकल कर पिंडार गंगा में देवल को महिमा मंडित करती है। समस्त प्रयागों में देवल का स्थान सर्वोपरि है। यहां शिवजी का सुन्दर मंदिर दर्शनीय है। देवल के लिए अल्मोड़ा औऱ कर्ण प्रयाग से पहुंचना सुगम है। गंगा देव प्रयाग से भागीरथी नाम से जानी जाती है। रुद्र प्रयाग में मंदाकिनी (गंगा) और अलकनंदा (गंगा) का संगम दर्शनीय है। जहां अलकनंदा में माना के पास सरस्वती समाहित होती हैं, उसे केशव प्रयाग कहा जाता है। भारत में गंगा को “गंगा मैया” के नाम से जाना जाता है। वह पवित्र पावनी मानी जाती है। इसके तट पर वैदिक ऋचाओं से गुजरति आश्रम पनपे व आर्यों के बड़े-बड़े साम्राज्य स्थापित हुए। व्यास और बाल्मीकी के महाकाव्यों से, कालिदास और तुलसी की कविताओं से अनुप्राणित गंगा से पौराणिक साहित्य भी भंडार की तरह जुड़ा है। कहा जाता है कि गंगा देवसरिता थी। उसके पिता हिमवान से देवताओं ने आवश्यकतावश मांग लिया था। एक बार उनके अधोवस्त्र उठने से जब राजार्षि महाभिष कामुक हो उठे तो पितामह ब्रह्मा ने दोनों को ही मृत्युलोक में जलधारण करने का शाप दे दिया। कालान्तर में राजर्षि महाभिष, कुरू-कुल के सम्राट शांतनु हुए और गंगा हुई उनकी पत्नी। उनके गर्भ से आठ वसुओं का जन्म हुआ। सात वसुओं को मुक्ति देने के बाद अपनी प्रतिज्ञा के अनुसार जब आठवें वसु का वध करने जा रही थीं कि राजा शांतनु के रोकने पर गंगा तुरंत वहां से चली गई। आठवां वसु ही देवव्रत, भीष्म पितामह के नाम से विख्यात हुआ। भागीरथी ऋषिकेश, हरिद्वार, गढ़मुक्तेश्वर, प्रयाग काशी और पटना होते हुए गंगा वहां जा पहुंची जहां सगर के साठ हजार पुत्रों की राख पड़ी हुई थी। सगर पुत्रों को गंगा के स्पर्श से ही स्वर्गधाम प्राप्त हो गया। गंगा के किनारे अनेक तीर्थ हैं- गंगोत्री, जहां भागीरथी का उद्गम हुआ, बदरीनाथ, जहां नर-नारायण की तपस्या हुई। देव-प्रयाग, जिस स्थल पर भागीरथी और अलकनंदा दोनों के संगम से गंगा बनी। ऋषिकेश, जिस स्थान पर वह पिता श्री हिमवान से अनुमति लेकर पधारी तथा हरिद्वार जिसे गंगा का द्वार कहा जाता है। तदुपरांत गंगा का तीर्थ है-कनखल, जिस स्थान पर सती ने दक्ष यज्ञ में आत्मदाह किया और शिव ने दक्ष के यज्ञ का विध्वंस कर डाला था, गढ़मुक्तेश्वर और सोरों, जिन स्थलों पर स्नान करने से मुक्ति मिलती है, प्रयाग जहां गंगा, यमुना और सरस्वती तीनों का संगम होता है, काशी जो शिव भगवान की पुत्री है। गंगा सागर, सागर के पुत्रों का उद्धार करने वाली तीर्थ स्थली है। गंगा के अनेक रूप हैं, अनेक कथाएं हैं। पुराणों ने गंगा को मोक्षदायिनी बताया है। गंगा त्रिपथगा भी है। स्वर्ग में अलकनंदा, पृथ्वी पर भागीरथी या जाहन्वी तथा पाताल में अधो गंगा (पाताल गंगा) के नाम से जानी जाती है। पौराणिक प्रतीक कथाओं के साथ इतिहास भी जुड़ा हुआ है जैसे कि शांतनु एक धान्य होता है, आश्विन में उसे वर्षा का जल चाहिए। ऐसा जल ‘गांगेय जल’ कहलाता है। शांतनु और गांगेय जल के मिलन को विवाह कहते हैं। यही रूपक रचा जाकर मरतों के इतिहास में मिल गया। उसी प्रकार सागर के साठ हजार पुत्रों का तात्पर्य है सगर की जनता की संख्या जो अकाल में भूखी-प्यासी मर गई होगी। तब सागर से भागीरथ तथा अभियंत्रण के कठोर परिश्रम से पर्वतों को काट कर गंगा समतल पर लाई गई होगी। गंगा के उद्गम पर कुछ ऐसी जड़ी-बूटियां हैं जिनके स्पर्श करने से गंगा का पानी कभी सड़ता नहीं है और न कभी उसमें कीड़े पड़ते हैं। शंकर की जटाओं से मतलब है हिमालय की चोटियां जो वर्षा के जल से लबालब हैं। उसी अभियंत्रण कला से हिमशिखरों पर अनेक सुंदर और सुदृढ़ सरोवरों का निर्माण हुआ। शिलाओं पर शिला रखकर उनके प्रवाह को भूमि के समतल मैदान की ओर मोड़ा गया। हिमालय की अधिकांश नदियों के उद्गम स्थल ऐसे ही सरोवर हैं जैसे रूप कुण्ड से ‘मंदाकिनी’, अनामकुंड से ‘धौली’ गंगा, हेमकुण्ड से ‘लक्ष्मण गंगा’ ‘गांधी’ सरोवर से ‘मंदाकिनी’ तथा सहस्त्र ताल से पिलग धारा तथा भिलंग नदियां जो प्रायः भागीरथी की सहायक नदियां ही हैं। एक पौराणिक संदर्भ में कहा गया है कि शिव की जटाओं से मुक्त हो गंगा सात धाराओं में पृथ्वी पर उतरी, जिनमें तीन पूर्व की ओर और तीन पश्चिम की ओर प्रवाहित हुई और सातवीं धारा भागीरथी के पीछे-पीछे आई। मार्ग तय करती हुई जब यह जन्हु ऋषि के आश्रम में पहुंची तो अपने वेग में उसे बहा ले गई। तब देवता, गंधर्वों ने ऋषि की वंदना की और गंगा के अहम् के लिए क्षमा मांगी, ऋषि को अपनी जंघा चीरकर गंगा को मुक्त करना पड़ा। गंगा इसीलिए जान्हवी नाम से पुकारी जाती है। प्रसिद्ध धार्मिक नगरी काशी (अब वाराणसी) गंगा के तट पर ही सुशोभित है। कशा यानी चमकने वाला से इसका नाम काशी रखा गया होगा, क्योंकि ‘वरुणा’ और ‘असी’ नामक दो नदियों के आधार पर ही आज इसे वाराणसी संज्ञा प्रदान की गई है। बनारस भी शायद उसी का बिगड़ा रूप है। 4,800 फुट की ऊंचाई पर भटवारी में शेषनाग का छोटा सा भग्नावस्था में मंदिर है। उनके चरणों से एक छोटी सी नदी नवला निकलती है और यहीं गंगा में विलय हो जाती है। इस स्थान को भास्करपुरी कहा जाता है। यह भी कहा जाता है कि सूर्य ने शिव की उपासना यहीं की थी। श्री कंठ शिखर से क्षीर गंगा का निकास बताया जाता है। दक्षिण दिशा में हेमकूट पर्वत के पास उत्तरवाहिनी केदारगंगा भगीरथी में मिलती है जहां से भगीरथी रौद्र रूप लिए तीन धाराओं में बहकर ब्रह्मकुंड में गिर जाती है। यहां प्रवाह काफी तीव्र और उन्मत्त है। ब्रह्मकुंड के पास ही सूर्य कुंड और गौरी कुंड हैं यहां पर शिवजी ने भगीरथी को अपनी जटाओं में बांध लिया था। गौरी कुंड में जिस शिला पर भगीरथी गिरती है, उस शिला को शिवलिंग की मान्यता है। कहते हैं कि भगीरथी की गति कितनी ही तीव्र हो जाये यह शिला यहीं रहती है, उस पर चढ़कर ही जल आगे बढ़ता है। महाभारत में इसे त्रिपयागामिनी, बाल्मीकि रामायण में त्रिपथगा और रघुवंश और शाकुन्तल में जिस्नोता कहा गया है। विष्णु-धर्मोत्तरपुराण में गंगा को त्रलोवय व्यापिनी कहा गया है। शिवस्वरोदय में इड़ा नदी को गंगा कहा गया है। पुराणों में गंगा को लोकमाता कहा गया है। बाल्मीकी रामायण के अनुसार गंगा की उत्पत्ति हिमालय की पत्नी मैना से बतायी गई है। गंगा उमा से ज्येष्ठ थी। पूर्वजों के उद्धार के लिए भगीरथ ने ब्रह्माजी को प्रसन्न करने के लिए अत्यधिक कठोर तप किया। ब्रह्माजी ने भगीरथ को शंकरजी की आराधना के लिए कहा, क्योंकि गंगा के वेग को शंकरजी ही धारण कर सकते थे। एक वर्ष तक गंगा शंकरजी की जटाओं में ही भटकती रही। अन्त में शंकर ने एक जटा से गंगा धारा को छोड़ा। देव नदी गंगा भगीरथ के पीछे-पीछे कपिल मुनि के आश्रम गयी और उन्होंने सागर पुत्रों का उद्धार किया। देवी भागवत पुराण के अनुसार गंगा, लक्ष्मी, सरस्वती तीनों विष्णु की पत्नियां थीं। आपसी कलह के कारण सरस्वती और गंगा को पृथ्वी पर नदी के रूप में आना पड़ा। श्रीमद्भागवत के पंचम स्कन्धानुसार राजा बलि से तीन पग पृथ्वी नापने के समय भगवान वामन का बांया चरण ब्रह्माण्ड के ऊपर चला गया, वहां ब्रह्माजी के द्वारा भगवान के पाद प्रच्छालन के बाद उनके कमण्डल में जो जलधारा स्थित थी वह उनके चरण-स्पर्श से पवित्र होकर ध्रुवलोक में गिरी और चार भागों में विभक्त हो गयी। मंदाकिनी नदी के सिरे पर 11,750 फुट की ऊंचाई पर गढ़वाल जिले में बसा पावन केदारनाथ सुंदर प्राकृतिक दृश्यों से भरपूर प्रमुख पर्यटक स्थल है। लगभग 2 कि.मी. चौड़ी यह बर्फ की घाटी ऊंचे पर्वतों से घिरी रंगभूमि पशु-पक्षी विहार जैसा लगता है। यहां पर हिमगिरी के भव्य दृश्य रोमांचित कर देते हैं। बद्रीनाथ की तरह केदारनाथ का मौसम भी वर्ष भर ठण्डा रहता है। शीत ऋतु में तो अनवरत हिमपात रहता है। मई-जून, सितम्बर-अक्तूबर के महीने ही यहां पर्यटन के अनुकूल हैं। गौरी कुण्ड पहुंचने के बाद आगे 14 कि.मी. की दूरी पैदल पार करनी पड़ती है। गोविन्दघाट से आगे देवों की वाटिका के अन्दर पुष्पवती नामक नदी बहती है। हिमानियों से अनेक फूटी हुई धाराओं और झरनों से पुष्पवती के जल की अभिवृद्धि होती है जो घंघरिया में लक्ष्मण गंगा में जाकर समाहित हो जाती है। लक्ष्मण गंगा, घंघरिया से 5 कि.मी.

Next

The Advantages and Disadvantages of Canal Irrigation

Essay on advantage of river in hindi

Essay on the “Pollution of Ganga” in Hindi, Short essay on Ganga River Pollution in hindi, Reason of Ganga Pollution in Hindi, Reason of Ganga Pollution in hindi Language, Ganga Pollution in Hindi, Essay on Ganga Pollution in Hindi, Information about Ganga Pollution in Hindi, Free Content on Ganga. Click here Persuasive essay attention getters In this lesson you will draft a thesis statement for your argumentative essay by combining your claim and supporting reasons – for teachers. Mahatma gandhi famously known as bapu, gandhiji or father of the nation, was i’ve read much about him in the past and your article does much justice to the. How to define a writer’s source of reliable argumentative essay topics is, is basically both sides, it is actually easier to present a more open pro vs con essay. essay on yamuna river pollution in hindi Was macht einen essay zu einem philosophischen essays? pro- und contra-argumenten überprüfen der schlüssigkeit der argumentation vermeiden von veranschaulichung der these durch beispiele selbstreflexive.

Next

What are the advantages and disadvantages of dams? - Quora

Essay on advantage of river in hindi

The advantage is linked to the purpose. You can build a dam to provide drinking water, recreation, flood control, power generation or a small dam for livestock. The advantage of each also has some possible disadvantages. For example if you block a river with a dam you change the way the river will allow fish to migrate. Importance of Water in Hindi अर्थात इस article में आपके लिए जल का महत्त्व के विषय पर एक निबंध दिया गया है. जल चाहे किसी भी रूप में हो, हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण है.जल प्रकृति की अमूल्य देन है । जीवित रहने के लिए जल अति आवश्यक है । अन्न के बिना हम कई दिनों तक भूखे रह सकते हैं परंतु जल के बिना जीवित रहना असंभव है । जल प्रत्येक जीव की आवश्यकता है । मनुष्य ही नहीं पेड़-पौधे, पशु-पक्षी भी जल के बिना जीवित नहीं रह पाते । जल के बिना तो पूरी वनस्पति ही समाप्त हो जाएगी । यदि जल न होता तो क्या होता? जल के बिना न फसलें होती, न फल, न सब्जियां, न घास-फूस, कुछ भी न होता । चारों ओर क्या होता? कुछ भी नहीं । कोई भी प्राणी जीवित न रहता ।धरती अनाज उत्पन्न न करती, पशु सास के बिना दूध न देते, हमें पीने के लिए दूध न मिलता । जल दो प्रकार का होता हैँ – एक खारा एवं दूसरा मीठा । पीने वाला जल मीठा होता है । समुन्द्र का पानी खारा और नमकीन ‘होता है । वह पानी पीने के काम नहीं आता । जो पानी बहता रहता ‘है वह सड़ जाता है उसमें से बदबू आती है । उस पानी में अनेक प्रकार के कीड़े? बर्तन धोने के लिए पानी को आवश्यकता होती है इसलिए हमें पानी की बचत करनी चाहिए ।बरसात के दिनों में पानी उबाल कर पीना चाहिए । पानी को उबालकर पीने से उसमें विद्यमान कीटाणु मर जाते हैं । इस प्रकार पेट की बीमारियों से बचा जा सकता है । धरती पर पानी की कमी. मकोड़े तथा मच्छरों से ही महामारी फैलती है । हमें भी अपने घरों के आसपास, आगे-पीछे पानी खड़ा नहीं होने देना चाहिए । इससे हमारा आस -पड़ोस साफ रहेगा तथा हम तंदुरुस्त रहेंगे ।हमें पानी की बचत करनी चाहिए । पानी को बर्बाद नहीं करना चाहिए । पानी का इस्तेमाल कम से कम करना चाहिए । पानी के नल को व्यर्थ में ही चलते नहीं देना चाहिए । गर्मियों में पानी की अधिक आवश्यकता होती है । अपने वाहनों को पानी से न धोकर उसे भीगे हुए वस्त्र से ही साफ करना चाहिए । पानी का प्रयोग लापरवाही से नहीं करना चाहिए । बढ़ती आबादी के कारण पानी का प्रयोग भी अधिक होने लगा है । मकान बनाने के लिए, पीने के लिए. है । धरती दिन-प्रतिदिन गर्म हो रही है । ग्लेशियर पिघल रहै हैं जिस कारण नदियों में पानी की कमी होती जा रही है जैसे गंगोतरी ग्लेशियर से गंगा निकलती है । वह तेज धूप तथा गर्मी के कारण पिघल रहा है । वह दिन दूर नहीं जब गंगा नदी सूख जाएगी । उत्तरी तथा दक्षिणी ध्रुव की बर्फ पिघल रही है । इस कारण समुद्र का पानी बढ़ जाएगा तथा उसके आसपास बसे नगर समुद्र में आलोप हो जाएंगे । जल के अनेक लाभ हैं ।जल केवल हमारी प्यास ही नहीं बुझाते बल्कि इससे बिजली भी पैदा की जाती है । नदियों पर बड़े-बड़े बांध बनाकर पानी को रोका जा रहा है जिससे बिजली पैदा की जाती है । उस पानी को नहरों द्वारा खेती के लिए प्रयोग किया जाता है । बांध के पीछे रोके हुए पानी को झीलों के रूप में बदला जा रहा है जिसमें मछली पालन किया जाता है । यदि हम आज जल सेवन करेंगे तभी हमारा भविष्य सुरक्षित हो पाएगा । वर्तमान मैं पानी की बचत करके हम अपना भविष्य सुरक्षित कर सकते हैं । हमें देश की खुशहाली के लिए पानी की एक-एक बूंद को बचाना होगा तभी हमारा भविष्य भी सुरक्षित हो पाएगा ।हमें पूरी आशा है कि आपको हमारा यह article बहुत ही अच्छा लगा होगा.

Next

गंगा (Ganga River in Hindi) | इंडिया वाटर पोर्टल (हिन्दी)

Essay on advantage of river in hindi

Sample for graduate application make my essay on community service asap How to write a research paper chapter 1 dissertation conclusion Minnesota. make my creative. This occurs where a river enters an ocean, sea, estuary, lake, reservoir, or (more rarely) another river that cannot transport away the supplied sediment. The size and shape of a delta is controlled by the balance between watershed processes that supply sediment and receiving basin processes that redistribute, sequester, and export that sediment. The size, geometry, and location of the receiving basin also plays an important role in delta evolution. River deltas are important in human civilization, as they are major agricultural production centers and population centers. They can provide coastline defense and can impact drinking water supply.

Next

Essay on yamuna river pollution in hindi – sinshelafjusttolegomenetplamo

Essay on advantage of river in hindi

Ganga River को पृथ्‍वी पर लेकर आये थे तो आइये जानते हैंं. Essay On Say No To Plastic Bags In Hindi Essay for you Hindi Essay Hindi Nibandh Free APK Download Android Pinterest Environment Slogans Hindi Essay Hindi Nibandh Free APK Download Android Pinterest Environment . Essay of computer in hindi About Essay Example The Crucible Essay On John Proctor Success If you think your plastic bags have been reused for many times then that s the time you can throw in the non biodegradable can . Plastics Waste Management Recycling Video in Hindi You Tube Computer in hindi essay They ran out the back door with every scrap of ice from Computer in hindi essay They ran out the back door with every scrap of ice .

Next

Insights IAS MINDMAPS on Important Current Issues for UPSC Civil Services Exam - INSIGHTS

Essay on advantage of river in hindi

Jan 11, 2016. The flood is the large body of water in some areas where it becomes destructive and impedes the natural cycle of living organisms, It may be the result of long periods of the heavy rain, or the rivers or the lakes, When the temperature is high, It can cause the flooding as they cause the ice caps and the. • ब्रह्मपुत्र नदी हिमालय में अपने उद्गम से लगभग 2,900 किमी बहकर यमुना के नाम से दक्षिण में बहती हुई गंगा नदी की मूल शाखा पद्मा के साथ मिलती है और बाद में दोनों का मिश्रित जल बंगाल की खाड़ी में गिरता है। • ब्रह्मपुत्र नदी का उद्गम तिब्बत के दक्षिण में मानसरोवर के निकट चेमायुंग दुंग नामक हिमवाह से हुआ है। • अपने मार्ग में यह चीन के स्वशासी क्षेत्र तिब्बत, भारतीय राज्यों, अरुणाचल प्रदेश व असम और बांग्लादेश से होकर बहती है। • अपनी लंबाई के अधिकतर हिस्से में नदी महत्त्वपूर्ण आंतरिक जलमार्ग का कार्य करती है; फिर भी तिब्बत के पहाड़ों और भारत के मैदानी इलाक़ों में यह नौका चालक के योग्य नहीं है। • अपने निचले मार्ग में यह नदी सृजन और विनाश, दोनों ही करती है। साथ ही यह बड़ी मात्रा में उपजाऊ जलोढ़ मिट्टी जमा करती है। परंतु अक्सर विनाशकारी बाढ़ लाने वाली सिद्ध होती है। • बांग्ला भाषा में जमुना के नाम से जानी जाती है। • चीनी में या-लू-त्सांग-पू चियांग या यरलुंग ज़ैगंबो जियांग कहते है। • तिब्बती में त्सांग-पो या सांपो के नाम से जानी जाती है। • मध्य और दक्षिण एशिया की प्रमुख नदी कहते है। • अरुणाचल में डिहं के नाम से जानी जाती है। • असम में ब्रह्मपुत्र कहते है। • सुवनश्री • तिस्ता • तोर्सा • लोहित • बराक भू—आकृति • ब्रह्मपुत्र का उदगम स्थल चेमायुंगडंग हिमनद है, जो दक्षिण—पश्चिमी तिब्बत में मा—फ़ा—मूं (मापाम) झील से लगभग 97 किमी. दक्षिण—पूर्व में हिमालय की ढलानों को आच्छादित करता है। कूबी, आंगसी और चेमायुंगडंग वहाँ से उत्पन्न होने वाली तीन मुख्य धाराएँ हैं। नदी अपने उदगम स्थल से सामान्यतः पूर्वी दिशा में दक्षिण की ओर हिमालय की मुख्य पर्वत श्रेणी और उत्तर की ओर निएन—चिंग—तांग—कू—ला (न्येनचेन) पर्वतों के बीच क़रीब 1,126 किमी. तक प्रवाहित होती है। • नदी अपने पूरे ऊपरी मार्ग पर सामान्यतः त्सांगपो (शोधक) के नाम से जानी जाती है, और अपने मार्ग में कई जगहों पर अपने चीनी नाम से और अन्य स्थानीय तिब्बती नामों से भी जानी जाती है। • तिब्बत में त्सांग—पो कुछ उपनदियों को समाहित करती है, बाएँ तट की सबसे महत्वपूर्ण उपनदियाँ हैं, लो—कात्सांग—पू (रागा त्सांग-पो), जो जीह—का—त्से (शींगत्सी) के पश्चिम में नदी से जुड़ती है और ला—सा (की), जो तिब्बत की राजधानी ल्हासा के निकट से बहती है और चू—शुई में त्सांगपो से जुड़ती है। नी—यांग (ग्यामडा) नदी इस नदी से त्सी—ला (त्सेला दज़ोंग) में उत्तर की ओर जुड़ती है। दाएँ तट पर निएन—चू (न्यांग चू) नदी इस नदी से जीह—का—त्से पर मिलती है। तिब्बत में पाई (पे) से गुजरने के बाद, नदी अचानक उत्तर और पूर्वोत्तर की ओर मुड़ जाती है और ग्याला पेरी और नामचा बरखा (माउंट—ना—मू—चो—इर्ह--वा) के पहाड़ों के बीच उत्प्रवण जल प्रपातों की श्रृंखला में एक के बाद एक बड़ी संकरी घाटियों से रास्ता बनाती है। उसके बाद, यह नदी दक्षिण और दक्षिण—पश्चिम की ओर मुड़ती है और दीहांग नदी के रूप में पूर्वोत्तर भारत की असम घाटी में प्रवेश के लिए हिमालय के पूर्वी छोर से गुजरती है। • भारत में सादिया शहर के पश्चिम में दीहांग दक्षिण—पश्चिम की ओर मुड़ती है, इसमें दो पहाड़ी जलधाराएँ, लोहित और दिबांग मिलती है। संगम के बाद बंगाल की खाड़ी से क़रीब 1,448 किमी. पहले नदी ब्रह्मपुत्र के नाम से जानी जाती है। असम में इसका पाट सूखे मौसम के दौरान भी नदी में ख़ासा पानी रहता है और बरसात के मौसम में तो इसका पाट 8 किमी. से भी चौड़ा हो जाता है। जैसे—जैसे यह नदी घाटी के 724 किमी.

Next

Let's know the river.

Essay on advantage of river in hindi

Information on rivers of india in hindi, importance of rivers hindi essay, benefits of the river in hindi, disadvantages of river in hindi, disadvantages of rivers in hindi language, advantages of river in hindi wikipedia, advantages of rivers in india, importance of river essay in hindi, 10 benefits of rivers in hindi, benefits of river in. 5 Largest Rivers of India in hindi भारतीयों के जीवन में नदियों का एक महत्वपूर्ण योगदान है. जीवन के प्रत्येक कर्म से जुड़ी नदियाँ धर्म से लेकर सामाजिक क्रिया के रूप में जुड़ी है. हमारी सभ्यता के विकास का केन्द्र रही है नदियाँ, नदियाँ नहीं होती तो शायद आज हम भी न रहे होते, सभ्यता को बसाने में नदियों की भूमिका है.हिमालय की गोद से प्रवाहित होने वाली नदियाँ पहाड़ पर जमें हिमनद के पिघलने से बनी हैं. बारिश के समय हिमालय की तराई में अधिक वर्षा होने के कारण नदियों का आकार घटता बढ़ता है. भारत की पांच प्रमुख नदियाँ के बारे में नीचे दर्शाया गया है. सिन्धु या इन्डस नदी सिर्फ भारत की ही नहीं बल्कि एशिया की सबसे बड़ी नदी है.

Next

Hindi-Advantages and Disadvantages of River Linking project in India

Essay on advantage of river in hindi

A river civilization or river culture is an agricultural nation or civilization situated beside and drawing sustenance from a river. A river gives the inhabitants a reliable source of water for drinking and agriculture. Additional benefits include fishing, fertile soil due to annual flooding, and ease of transportation. The first great. The descriptive "milky" is derived from the appearance from Earth of the galaxy – a band of light seen in the night sky formed from stars that cannot be individually distinguished by the naked eye. The term Milky Way is a translation of the Latin From Earth, the Milky Way appears as a band because its disk-shaped structure is viewed from within. Galileo Galilei first resolved the band of light into individual stars with his telescope in 1610. Until the early 1920s, most astronomers thought that the Milky Way contained all the stars in the Universe. The Solar System is located within the disk, about 26,000 light-years from the Galactic Center, on the inner edge of the Orion Arm, one of the spiral-shaped concentrations of gas and dust.

Next

Insights Daily Current Affairs, 14

Essay on advantage of river in hindi

Topic Issues relating to development and management of Social Sector/Services relating to Health, Education, Human Resources. World Diabetes Day 2017 One evening over dinner, I began to joke, as I often had before, about writing an essay called “Men Explain Things to Me.” Every writer has a stable of ideas that never make it to the racetrack, and I’d been trotting this pony out recreationally every once in a while. My houseguest, the brilliant theorist and activist Marina Sitrin, insisted that I had to write it down because people like her younger sister Sam needed to read it. Young women needed to know that being belittled wasn’t the result of their own secret failings; it was the boring old gender wars. So lovely, immeasurably valuable Sam, this one always was for you in particular. It wanted to be written; it was restless for the racetrack; it galloped along once I sat down at the computer; and since Marina slept in later than me in those days, I served it for breakfast and sent it to Tom later that day. It still seems to get reposted more than just about anything I’ve written at Tom Dispatch.com, and prompted some very funny letters to this site.

Next

फलों की उपयोगिता पर निबंध | Essay on the Importance of Fruits in Hindi

Essay on advantage of river in hindi

One evening over dinner, I began to joke, as I often had before, about writing an essay called “Men Explain Things to Me.” Every writer has a stable of ideas that. फलों की उपयोगिता पर निबंध | Essay on the Importance of Fruits in Hindi!

Next

Essay on advantage of river in hindi

Essay on advantage of river in hindi

8 जनवरी 2014. जल, मानव जाति के लिए प्रकृति के अनमोल उपहारों में से एक है। मानव शरीर में दो तिहाई मात्रा पानी की है। इससे स्पष्ट है कि जल का हमारे जीवन में कितना महत्व है। पृथ्वी के हर जीव के लिए जल की बहुत आवश्यकता होती है। पेड़-पौधों के लिए. The Rajiv Gandhi National Institute of Youth Development (RGNIYD), Sriperumbudur, Tamil Nadu, an Institute of National Importance has come out with Youth Development Index and Report 2017. This is a pioneering attempt made by the Institute in 2010 which it followed up with the India Youth Development Index in 2017. The index tracks the trends in Youth Development across the States. The Index enables recognizing the high and low performing states, identifies the weak domains and informs the policy makers the priority areas of intervention for youth development in the states. In the India Youth Development Index 2017, the first five dimensions are retained same as that of Global YDI.

Next

31 Physician Assistant Personal Statement Examples | The Physician Assistant Life

Essay on advantage of river in hindi

Bhoja reigned c. 1010–1055 CE was an Indian king from the Paramara dynasty. His kingdom was centered around the Malwa region in central India, where his capital. About · Create an Advert · Create a Page · Developers · Careers · Privacy · Cookies · Terms · Help Abhishek Fuel Ampz was tagged in Prapanch Photography's photo. Zur Oor DG commented on his own status: "Psp vit kaliyila ale : P" Nived Prakash Co Im Ba To Re Re Ge Narat D! Dhanashree Mallya commented on Ramya Kini's photo: "Same 2 u dear...." Anavadya S Babu was tagged in Abhishek Hary's photo. Nikhila Nikki commented on Shimya Sunil's Post on Nikhila Nikki's Wall: "ya i knw,alengil njan nine eat..." Ansab Ibn Azeez commented on his own photo: "ah" Dhanashree Mallya likes Ramya Kini's photo. Prapanch Photography added a new photo to the album Folios. Nikhila Nikki commented on Shimya Sunil's Post on Nikhila Nikki's Wall: "ya i knw,alengil njan nine eat..." Megha T V Nambiar HAPPY FRIENDSHIP DAY... Zur Oor DG commented on his own status: "Nower to go , oly sleepin nd p..." Megha T V Nambiar HAPPY FRIENDSHIP DAY........ ‎No Officer I'm Not Drunk, I'm Just Trying To Walk Like Captain Jack Sparrow I love my DAD shared a link.

Next

Insights Daily Current Affairs, 14 November 2017 - INSIGHTS

Essay on advantage of river in hindi

Does mla research paper title page look like practice opinion essay custom dissertation writers websites for college sample resume testing experience essay all ages contest 2017 thesis custom sidebar background hbt middle school homework resume jr oracle developer. Below, are 31 PA school application essays and personal statements pulled from our FREE personal statement and essay collaborative comments section. This is an unedited sample of PA school essay submissions, meant to provide you with some insight into how other applicants are approaching their CASPA personal statements. These sample essays are not meant to be examples of what (or how) you should write your personal statement. Sue Edmondson, our chief editor at the personal statement collaborative, has left a very brief comment at the end of each essay to provide the writer with some very basic help and guidance We offer this as a free service to all essay submissions through our comments section and it does not compare to the comprehensive editing and revision we offer through our private, paid editing service (you can read more about that here). A great essay is seamless, it's smooth, it's fluid it's like a country road that rolls over the hills and bends through the turns like the landscape has known nothing else. After our interviews with PA school administrators, one things became extremely clear: The admissions committee wants you to cut to the chase, eliminate the drama and tell a fluid story.

Next

Irrawaddy River - Wikipedia

Essay on advantage of river in hindi

ADVANTAGES AND DISADVANTAGES OF ENERGY SOURCES. Prepared. Advantages. • Burns clean compared to cola, oil less polluting. • 70% less carbon dioxide compared to other fossil fuels. • helps improve quality of air and water not a pollutant. Water wars up river and down river; e.g. the water war between. The following mindmaps are designed keeping in mind the demand of UPSC civil services Mains exam. Questions asked by UPSC demand consolidation of various ideas and translating them into meaningful 200 word answer. Our mindmaps provide you comprehensive linkages to connect various dimensions of a topic or an issue. We hope these mindmaps help in quick revision of major issues. Mindmaps(15 November 2017)Impact of GST Council Decisions Special Courts to try Politicians in Criminal Cases Mindmaps(14 November 2017)Ready-to-use Therapeutic Food (RUTF)World Food India 2017Mindmaps(13 November 2017)National Nutrition Strategy Rich Nations’ Sluggish Climate Actions Mindmaps(03 November 2017)Ease of Doing Business – India jumps 30 Spots Role of Union and State Governments in the Growth of IT Sector Mindmaps(31 October 2017)Separate All India Services Cadres for North-Eastern States Criminal Laws (Rajasthan Amendment) Ordinance, 2017 Mindmaps(30 October 2017)Economic Growth and its Impact on Environment Ocean Acidification Mindmaps(26 October 2017)India’s Criminal Justice System Transforming India into an Innovation Hub Mindmaps(25 October 2017)Government’s Mega Plan to Revive Economy Home-Based Workers in India Mindmaps(24 October 2017)India’s Rising Soft Power Role of Independent Directors Mindmaps(23 October 2017)U.

Next

River delta - Wikipedia

Essay on advantage of river in hindi

Latest Comments. Kya cantomet area me Sarkari · Mathematics · Essay and painting on Swacch Bharat Abhiyaan · B.· Geo · Hindi · Alovera plantation · Water · Water · पुर्व प्रधान व सेकेर्टी दुरा पैसा गबन व शौचालय ना बनाये जाने हेत. The Indian Rivers Inter-link is a proposed large-scale civil engineering project that aims to effectively manage water resources in India by linking Indian rivers by a network of reservoirs and canals and so reduce persistent floods in some parts and water shortages in other parts of India. The project is being managed by India's National Water Development Agency (NWDA), under its Ministry of Water Resources. NWDA has studied and prepared reports on 14 inter-link projects for Himalayan component, 16 inter-link projects for Peninsular component and 37 intrastate river linking projects. The average rainfall in India is about 4,000 billion cubic meters, but most of India's rainfall comes over a 4-month period – June through September. Furthermore, the rain across the very large nation is not uniform, the east and north gets most of the rain, while the west and south get less.

Next